Categories: करियर

द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली – प्रारंभिक परीक्षा UPSSSC PET Kya hai- Syllabus ,Exam Pattern

हेलो दोस्तों| पिछले कुछ महीने मैं अभ्यर्थियों द्वारा सरकारी नौकरी रोजगार के मुद्दे पर घिरी जाने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने UPSSSC उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से वर्ष 2021 में कई सारी नौकरियों की विज्ञप्ति निकालने का प्लान बनाया है| इन नौकरियों में लेखपाल वीडियो और अन्य विभागों में समूह ग की कई सारी नौकरियों को देने का प्लान है| UPSSSC PET Exam का आयोजन इन्हीं नौकरियों को ध्यान में रखकर के किया जाएगा| दोस्तों आगे बढ़ने से पहले यह जानना बहुत जरूरी है की द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली – प्रारंभिक परीक्षा (UPSSSC PET) Kya hai – upsssc pet kya hai ? इसके लिए उम्र सीमा क्या है पात्रता की क्या शर्ते हैं और इसका लाभ क्या क्या है

UPSSSC PET Kya hai

UPSSSC PET की परीक्षा उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग अर्थात  यूपीएसएसएससी (UPSSSC) द्वारा आयोजित कराई जाएगी। यूपीएसएसएससी उत्तर प्रदेश (UP) के विभिन्न सरकारी संस्थानों में समूह ‘ग’ के पदो पर भर्ती हेतु परीक्षाओं का आयोजन करता है | यह परीक्षा राज्य स्तर पर आयोजित होती है, तथा इसे वर्ष में 2 बार लिखित माध्यम से आयोजित कराये जाने का नियम प्रस्तावित किया गया है | 

इसके अलावा आपको जानकारी देते हुए बता दे कि उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग अभी तक UPSSSC PET Exam से सम्बन्धित नोटिस या अपडेट के लिए इसकी आधिकारिक बेबसाइट पर विजिट कर सकते है | यदि आप भी यूपीएसएसएससी क्या है, फुल फॉर्म, द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली – प्रारंभिक परीक्षा (PET) के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो यहाँ पर इसके बारे में बताया गया है |

UPSSSC का फुल फॉर्म क्या है “Uttar Pradesh Subordinate Services Selection Commission

PET का फुल फॉर्म Preliminary Eligibility Test” है || हिंदी में इसका मतलब ‘उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग प्रारंभिक पात्रता परीक्षा’ होता है|

इसके पहले उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) की किसी भी परीक्षा में छात्र के असफल हो जाने पर उसे आयोग की अन्य परीक्षा (Other Exam) में आवेदन हेतु अपनी पूरी जानकारी तथा उसका ब्योरा देना होता था। लेकिन अब नये नियम के तहत रजिस्ट्रेशन के बाद किसी भी ब्यौरा की जानकारी नहीं अपलोड करना पड़ेगा | एक वर्ष में दो बार परीक्षा विभिन्न विभागों के ‘समूह ग’ की भर्ती हेतु वर्ष में एक बार (One Time) आयोजित होने वाली प्रारंभिक पात्रता परीक्षा (Preliminary Eligibility Test) अब वर्ष में दो बार कराने का प्रावधान बनाया गया है | हालांकि, कि इस नियम में अभ्यर्थी को सिर्फ एक बार ही परीक्षा देनी होगी, लेकिन अगर वह अपने मार्क्स (Score) सुधारने हेतु फिर से परीक्षा में बैठ सकता है। इसके लिए किसी भी अधिकतम सीमा का नियम नहीं बांया गया है | upsssc pet kya hai

PET का Score Card कितने दिनों तक वैध रहेगा

यह स्कोर कार्ड (Score Card) केवल तीन वर्षों तक वैध माना जायेगा

UPSSSC PET का प्रारूप कैसा होगा – upsssc pet kya hai

परीक्षा का आयोजन दो बार किया जाए जिसे Pre और Mains में बाटा जाएगा| प्रथम चरण में 100 सवालो का क्वेश्चन पेपर आएगा जिसे 120 मिनट में पूरा करना होगा| इसके साथ ही आपको नेगेटिव मार्किंग का भी सामना करना पड़ेगा| 1 गलत उत्तर के लिए 1/4 अंक काट लिए जाएगा|

upsssc pet syllabus

UPSSSC PET Syllabus 2020 In Hindi – हालांकि  उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने अभी तक UPSSSC PET परीक्षा से सम्बन्धित नोटिस या अपडेट अपनी बेबसाइट पर जारी नही किया है| मगर एक संभावित सिलेबस हम आपको दिखा रहे हैं
उन अभ्यर्थियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है, जो आगामी PET परीक्षा में शामिल होना चाहते है। अगर आप भी PET परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, तो आपको यह पाठ्यक्रम (सिलेबस) बहुत ध्यान से पढ़ना चाहिए। इस सिलेबस के अनुसार तैयारी करके आप PET परीक्षा में सर्वाधिक स्कोर प्राप्त कर सकते हैं।

हिन्दी परिज्ञान एवं लेखन योग्यता

इस भाग के अन्तर्गत आपसे हिन्दी भाषा के ज्ञान, समझ और लेखन योग्यता से सम्बन्धित प्रश्न पूछें जायेगें। ये प्रश्न उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के हाईस्कूल परीक्षा अथवा समकक्ष परीक्षा के स्तर के होगें।

  • हिन्दी साहित्य का इतिहास
  • प्रमुख राष्ट्रभाषा आंदोलन
  • हिन्दी भाषा का विकास
  • प्रमुख राष्ट्रभाषा आंदोलन
  • प्रमुख बोलियां एवं वर्गीकरण
  • भारतीय संविधान में हिन्दी भाषा की स्थिति
  • राजभाषा के विकास से सम्बन्धित प्रमुख संस्थाएँ एवं आयोग
  • देवनागरी लिपि
  • वर्णमाला
  • उपसर्ग और प्रत्यय
  • पर्यायवाची और विलोम शब्द
  • लोकोक्तियां एवं मुहावरें
  • सन्धि एवं समास
  • शब्द शक्ति
  • रस, छन्द और अलंकार
  • संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रियाविशेषण, अव्यय, निपात
  • लिंग, वचन, वाच्य, कारक, काल, वाक्य
  • पत्र लेखन
  • प्रमुख कवि एवं रचनायें

सामान्य बुद्धि परीक्षण

इस भाग में पूछें जाने वाले प्रश्नों का उद्देश्य नवीन परिस्थिति को समझने, उसके विभिन्न तत्वों का पहचान कर विश्लेषण करने एवं तर्क करने, अनुदेशों को समझने, समानताओं एवं असमानताओं का पता लगाने, निष्कर्ष निकालने एवं बौद्धिक क्रियाओं से सम्बन्धित योग्यता को मापना है।

  • कोडिंग-डिकोडिंग
  • दिशा-निर्देश
  • अंकगणितीय तर्क
  • नंबर रैंकिंग
  • समानता
  • संख्या श्रृंखला
  • रक्त संबंध
  • घन और पासा
  • निर्णय लेना
  • नॉन-वर्बल
  • श्रृंखला
  • घड़ियाँ और कैलेंडर
  • दर्पण छवियाँ
  • कथन निष्कर्ष
  • श्रेणी
  • न्याय निर्गम

सामान्य ज्ञान

यह भाग अभ्यर्थियों के चारो ओर के वातावरण के बारे में सामान्य जानकारी तथा समाज में उसके इस्तेमाल के बारे में उनकी योग्यता आंकने के लिए है। इस भाग के तहत समसामायिक तथा प्रतिदिन दृष्टिगोचर होने वाले ऐतिहासिक एवं भौगोलिक तथ्यों से सम्बन्धित प्रश्न पूछें जायेगें।

  • भारत का इतिहास और स्वाधीनता आंदोलन
  • भारतीय संविधान व राजव्यवस्था
  • भारत और विश्व का भूगोल
  • भारतीय अर्थव्यवस्था, आर्थिक और सामाजिक विकास
  • उत्तर प्रदेश से जुड़े प्रमुख राजनैतिक, ऐतिहासिक, भौगोलिक और आर्थिक मामलें
  • राष्ट्रीय खेल एवं पुरस्कार
  • समसामायिकी
  • सामान्य विज्ञान (महत्वपूर्ण आविष्कार, नियम एवं प्रयोग)
  • राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय दिवस
  • प्रमुख देशों की राजधानी एवं मुद्रा
  • प्रमुख राष्ट्रीय योजनाएं
  • पुरस्कार (राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर) आदि।

प्रारंभिक गणित

  • संख्या पद्धति
  • ल0 स0 और म0 स0
  • प्रतिशत
  • समय, चाल और दूरी
  • वैन आरेख
  • औसत
  • लाभ और हानि
  • साधारण और चक्रवृद्धि ब्याज
  • अनुपात-समानुपात
  • सांख्यिकी
  • बीजगणित
  • त्रिकोणमिती
  • ज्यामिती
  • कार्य और समय
  • भिन्न
  • रेलगाड़ी
  • सरलीकरण
  • घातांक और करणी
  • आयु सम्बन्ध
  • साझा

UPSSSC PET से सम्बंधित विषय

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam) में अभ्यर्थी का सामान्य ज्ञान (General Knowledge), हिंदी (Hindi), तार्किक क्षमता (Reasoning Ability) और हाईस्कूल स्तर के सामान्य गणित (Math) के विषयों को रखा गया है | इसके बाद अगले स्तर की मुख्य परीक्षा (Mains Exam), कौशल परीक्षा (Skill Test), शारीरिक परीक्षा (Physical Test) हेतु शार्टलिस्ट किया जाता है | जिसके लिए अभ्यर्थी को तीन वर्षों में पेट (PET) एग्जाम में प्राप्त उच्चतम स्कोर को मान्यता प्रदान किये जाने का प्रावधान है | 

विज्ञाप्ति पद हेतु मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

प्रारंभिक परीक्षा (Prelims Exam) में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा (Mains Exam) देना होता है। इसके अतरिक्त विज्ञप्ति पदों की संख्या के 15 गुना आवेदकों की परीक्षा में पाए गए मार्क्स (Score) की तैयार की गई लिस्ट के अनुसार की जा सकेगी | मुख्य परीक्षा (Mains Exam) हेतु विषय व पाठ्यक्रम का चयन संबंधित विभाग की सलाह से शासन के अनुमोदन से होगा |

अन्य पोस्ट

kaisebane

View Comments

Share
Published by
kaisebane

Recent Posts

CBSE Results 2024: इस तारीख को घोषित होगा कक्षा 10 और 12 बोर्ड परिणाम

सीबीएसई बोर्ड के छात्रों के लिए एक अच्छी खबर है| CBSE 2024 कक्षा 10 और…

3 weeks ago

भारत की पहली महिला रेसलर हमीदा बानो – Google Doodle Hamida Banu tribute

भारत खेलो और खिलाड़ियों का देश है| भारत के तमाम खेलों में कुश्ती बहुत ही…

3 weeks ago

NET / JRF Exam 2024 Notification| Oppertunity to Apply

National Testing Agency (NTA) has relased UGC NET / JRF Exam June 2024 Notification. राष्ट्रीय…

1 month ago

UPPSC ARO/RO के Mains Exam की अच्छी तैयारी कैसे करें

दोस्तों पिछली पोस्ट में हमने आपको ये बताया था कि समीक्षा अधिकारी कैसे बने -…

1 month ago

UPPSC ARO/RO 2024 Prelims Re-exam Latest Update

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा 11 फरवरी को दो शिफ्ट में उत्तर प्रदेश लोक…

1 month ago

How to make graphics designing career Top 10 tips

दोस्तों आज की दुनिया ग्राफ़िक्स और कंप्यूटर की दुनिया है | आज कल ग्राफ़िक्स डिजाईन…

5 months ago