सरकारी नौकरी के फायदे – Benefits of Government Job

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको यह बताएंगे कि सरकारी नौकरी करने के कौन-कौन से फायदे हैं- सरकारी नौकरी के फायदेBenefits of Government Job इस पोस्ट में हम प्राइवेट सेक्टर में जॉब या निजी क्षेत्र में नौकरी और सरकारी नौकरी में अंतर को स्पष्ट करेंगे दोस्तों अपने करियर में हर व्यक्ति एक स्थायित्व खोजता है जीवन के सभी प्लानिंग पैसे पर निर्भर करती है और पैसा आने का स्रोत अगर स्थाई हो तो बहुत सारी चीजें आसान हो जाती है|सरकारी जॉब की तैयारी Advantages Of Government Jobs से जुड़े तथ्य आपको बताने जा रहे हैं |Sarkari Job Me Career kaise banaye

सरकारी नौकरी के फायदे

क्यों आज का क्यों युवा वर्ग का अधिकतर प्रतिशत सरकारी नौकरी की तैयारी के लिए जुटा हुआ है आखिर सरकारी नौकरी करने की क्या क्या लाभ है सरकारी नौकरी के लाभ जो प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करने से नहीं प्राप्त हो सकते या कम हो सकते हैं| अगर हम बिंदुवार विश्लेषण करें तो हम कई ऐसे पॉइंट्स पाएंगे जिसके आधार पर हम समझने का प्रयास करते हैं

क्यों आज का क्यों युवा वर्ग का अधिकतर प्रतिशत सरकारी नौकरी की तैयारी के लिए जुटा हुआ है आखिर सरकारी नौकरी करने की क्या क्या लाभ है सरकारी नौकरी के लाभ जो प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करने से नहीं प्राप्त हो सकते या कम हो सकते हैं| अगर हम बिंदुवार विश्लेषण करें तो हम कई ऐसे पॉइंट्स पाएंगे जिसके आधार पर हम गवर्नमेंट जॉब की तैयारी , सरकारी नौकरी को करने करने के पीछे की मंशा को समझ पाएंगे

सरकारी नौकरी को करने करने के पीछे की मंशा को समझ पाएंगे

तो चलिए सरकारी नौकरी के फायदे को बिंदुवार तरीके से समझते हैं

सरकारी नौकरी में निजी क्षेत्र की नौकरियों की तुलना में स्थायित्व रहता है

दोस्तों सरकारी नौकरी में नौकरी करने वाले के अंदर एक सुरक्षा की भावना का एहसास होता है प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने पर कई बार बॉस के व्यवहार के कारण या आंतरिक राजनीति के कारण एंपलाई के मन में असुरक्षा की भावना घर कर जाती है जबकि सरकारी क्षेत्र में किसी अन्य अनियमितता की वजह से अन्य एक्शन तो लिए जा सकते हैं मगर नौकरी से निकाले जाने का खतरा निजी क्षेत्र की तुलना में कम होता है| Career kaise banaye

वेतन समय पर मिलता है यानी प्रतिमाह वेतन मिलता रहता है

अगर हम क्लर्क लेवल की बात करें या चतुर्थ श्रेणी के एंपलाई की बात करें तो सरकारी क्षेत्र में नौकरी करने पर वेतन की नियमितता रहती है जबकि वहीं पर असंगठित क्षेत्रों में वेतन की अनियमितता पाई जाती है

एक लंबा कार्यकाल होता है

अगर आप अपने कार्य में लापरवाही नहीं बरतते हैं तो सरकारी क्षेत्र में आप 58 से 62 वर्ष तक कार्य कर सकते हैं जबकि निजी क्षेत्रों Private Sectors Job में इस उम्र में आने पर आपकी कार्य दक्षता कम होने की वजह से अधिकतर केसेस में कार्यरत एंपलाई को कार्य दक्षता के आधार पर हटा दिया जाता है या उस स्तर का वेतन नहीं दिया जाता है जिस स्तर का उसके कार्य लिया जाता है

अमीर कैसे बने – करोड़पति कैसे बनें

निजी क्षेत्रों में भारी भरकम टारगेट और वर्क प्रेशर का होना

निजी क्षेत्रों में कार्यरत व्यक्तियों को एक समस्या का हमेशा सामना करना पड़ता है और वह है बॉस या सुपरवाइजर की नाराजगी प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने पर आपको रेगुलर ली अपने स्किल्स को अपडेट करते रहना होगा कुछ क्षेत्रों में टारगेट और वर्क प्रेशर बहुत ज्यादा है जिससे घबराकर कई एम्पलाई त्यागपत्र दे देते हैं और दूसरी नौकरियों की तलाश करते हैं प्राइवेट जॉब में स्थायित्व का यह एक बहुत बड़ा कारण है| Government job मे workload बहुत अधिक नहीं होता

सरकारी नौकरी या सरकारी जॉब्स में छुट्टिया ज़्यादा मिलती है

सरकारी नौकरी या गवर्नमेंट जॉब में प्राइवेट सेक्टर्स के जॉब की तुलना में छुटियाँ ज़्यादा मिलती है | इस वजह से सरकारी कर्मचारी को पर्याप्त समय मिलता है | ये भी एक बहुत बड़ा कारण है सरकारी नौकरी की तरफ रुझान का

सरकारी के नौकरी में आपकों बहुत से प्रकार के Extra सुविधा मिलती हैं जैसे कि ट्रैवललिंग ( यात्रा), किराने का सामान आदि पर रियायतें सरकार के तरफ से दिया जाता है.यहां पर काम करने के लिए आपकों कोई स्पेशल स्किल्स की अवश्कता नहीं है. कम स्किल होने के बावजूद भी आपकों कोई कहने वाला नहीं है और न ही आपकी सैलरी पर कोई फर्क पड़ने वाला है. सरकारी नौकरी का मिलना जितना ही कठिन है उतना उसका मिलने के बाद छूट जाना

सबसे अच्छी बात है कि अगर आप अपने जॉब्स के साथ कोई अन्य एक्जाम की तैयारी करना चाहते हैं तो आप बहुत आसानी से कर सकते हैं. आपकों उतना समय मिल जाएगा जहां आप अपने अच्छी भविष्य के लिए और तैयारी कर सकते हैं

उत्तर प्रदेश बिहार में सरकारी नौकरी करने वालों को अलग और उच्च दृष्टि से देखा जाता है उन्हें आर्थिक आधार पर अधिक सुरक्षित और संपन्न माना जाता है जबकि प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने वालों को इस तरह देखा जाता है जैसे कि आज उनके पास नौकरी है कल इनके पास शायद ना हो मगर दोस्तों यह एक प्रकार का सामाजिक भ्रम है आजकल निजी क्षेत्रों में भी कार्य करने वाले व्यक्तियों को अच्छा वेतन अच्छी सुविधाएं और अन्य लाभ दिए जाते हैं

दोस्तों यह भी जानकारी की सरकारी नौकरी के क्या-क्या फायदे हैं Government Jobs vs Private Jobs in Hindi लेकिन जहां पर सरकारी नौकरी के फायदे हैं वहीं पर सरकारी नौकरी के नुकसान भी हैं अगर आप प्राइवेट सेक्टर में बहुत अच्छा परफॉर्म करते हैं और समय-समय पर अपने स्किल्स को अपडेट करते रहते हैं तो आप सरकारी नौकरी की तुलना में प्राइवेट सेक्टर में काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं – सरकारी नौकरी और प्राइवेट नौकरी

Related Keyword : Career kaise banaye, Govt Job Career Kaise banaye , Sarkari Naukari Kaise Paaye, Sarkari Naukari ke Kya labh hai , Sarkari naukri kyo kare.

For Technical Helps : Click

1 COMMENT

LEAVE A REPLY