Categories: करियर

UPTET 2020 की बेहतर तैयारी कैसे करें

उत्तर प्रदेश के प्राथमिक एवं जूनियर स्कूलों में अध्यापक बनने के लिए अभ्यर्थी का शिक्षक पात्रता परीक्षा क्वालीफाई करना जरूरी है|TET का फुल फॉर्म है Teacher Eligibility Test . 2020 में उत्तर प्रदेश सरकार बड़े स्तर पर शिक्षकों की भर्ती करने वाली है ऐसी स्थिति में आपका यूपीटेट या सीटेट निकलना बहुत जरूरी है | उत्तर प्रदेश सरकार जल्द ही UPTET 2020 यूपीटेट 2020 का नोटिफिकेशन निकालने वाली है| आज किस पोस्ट में आपको हम बताएंगे कि कैसे यूपी टेट का एग्जाम क्लियर करें कैसे सीटेट की तैयारी करें और उत्तर प्रदेश के स्कूलों में अपने अध्यापक बनने के सपने को पूरा करें तो चलिए देखते हैं – यूपीटेट कैसे पास करें – यूपीटेट कैसे क्वालीफाई करें How to Pass UP TET for Paper 1 and Paper 2

यूपीटेट 2020 UPTET -2020 परीक्षा कब होगी

दोस्तों पहले यह परीक्षा दिसंबर माह 2020 में प्रस्तावित थी मगर कोरोना के कारण यूपी टेट 2020 की परीक्षा की डेट को टाल दिया गया है और अब शिक्षक पात्रता परीक्षा 2020 फरवरी 2021 में आयोजित की जाएगी

NCTE राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद अधिनियम 1993 के अधीन राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद 17 अगस्त 1985 से एक सांविधिक निकाय के रूप में अस्तित्व में आई है परिषद का मूल उद्देश्य समूचे देश के भीतर अध्यापक शिक्षा प्रणाली का नियोजित व समन्वित विकास करना है तथा अध्यापक शिक्षा प्रणाली में मानदंडों और मानकों का विनियमन तथा उन्हें समुचित रूप से बनाए रखना है

शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धारा 23 की उप धाराएं के द्वारा प्रदत्त शक्तियों के अनुक्रम में राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद की अधिसूचना दिनांक 27 Aug 2010 द्वारा कक्षा 1 से 8 तक के शिक्षकों हेतु न्यूनतम हड़ताल निर्धारित की गई है इसके अनुसार शिक्षक के रूप में नियुक्ति हेतु न्यूनतम निर्धारित शैक्षिक अहर्ता के साथ-साथ राज्य सरकार द्वारा आयोजित टेट परीक्षा शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण करना आवश्यक है केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा CTET के साथ राज्यों के लिए भी टेट परीक्षा हेतु सिलेबस का निर्धारण एनसीटीई ने ही किया है

यूपीटेट परीक्षा का प्रारूप कैसा होता है

UPTET 2020: उत्तर प्रदेश के सरकारी स्कूलों में टीचर बनने के लिए UPTET की परीक्षा क्वालीफाई करना बहुत महत्वपूर्ण है. इसमे दो पेपर्स होते हैं: पेपर 1 और पेपर 2. कक्षा 1 से लेकर 5 तक को पढ़ाने के लिए पेपर 1 क्लियर करना होता है और कक्षा 6 से लेकर 8 तक को पढ़ाने के लिए पेपर 2 क्लियर करना होता है. दोनों पेपर्स में Multiple Choice Questions पूछे जाते हैं और दोनों ही पेन और पेपर बेस्ड एग्ज़ाम होते हैं.

यूपी टेट 2020 के सिलेबस और एग्जाम पैटर्न को भली-भांति समझना आवश्यक है

UPTET की तैयारी शुरू करने से पहले आपको इसका Syllabus और Exam Pattern अच्छे से पता होना चाहिए. इस एग्ज़ाम की बेहतर तैयारी के लिए सबसे पहले आप इसके लेटेस्ट सिलेबस और एग्जाम पैटर्न को अच्छे से समझें. अगर आप यूपीटेट प्राइमरी का सिलेबस देखना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें

विगत वर्षों के प्रश्न पत्रों पर एक एनालिसिस जरूर करें

सिलेबस और एग्जाम पैटर्न जानने के बाद उम्मीदवारों को इस परीक्षा के पुराने पेपर्स की एनालिसिस करनी चाहिए. UPTET के पुराने पेपर्स भी आपको इंटरनेट पर आसानी से मिल जाएंगे.

इनकी विश्लेषण के द्वारा उम्मीदवार ये आसानी से समझ जाएंगे कि पूरे सिलेबस में से इस परीक्षा के लिए कौन से टॉपिक्स अत्यधिक महत्वपूर्ण हैं. UPTET बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवारों को इन टॉपिक्स पर ज़्यादा ध्यान देना चाहिए.

मॉडल पेपर और मॉक टेस्ट जरूर दें

UPTET की तैयारी के लिए आपको नियमित रूप से Mock Test ज़रूर हल करना चाहिए और हल करने के बाद अपनी परफॉरमेंस की भी एनालिसिस करनी चाहिए. एनालिसिस के द्वारा आप अपनी कमज़ोरियों को जानने की कोशिश करें और उन्हें जल्द दूर करें. Practice के लिए आप मॉक टेस्ट के अलावा Previous Years Papers की भी मदद ले सकते हैं.

NCERT किताबों का भी अध्ययन करें

वैसे तो आमतौर पर CTET की तैयारी के लिए NCERT द्वारा प्रकाशित किताबों को पढ़ने का सुझाव दिया जाता है मगर UPTET की  तैयारी के लिए भी ये किताबें बहुत महत्वपूर्ण हैं.

NCERT द्वारा प्रकाशित किताबों की PDF आपको एनसीईआरटी की official वेबसाइट पर आसानी से मिल जाएगी. ये किताबें Hindi और English दोनों भाषाओँ में मुफ्त उपलब्ध हैं. NCERT Textbooks पढ़ते समय हर चैप्टर के अंत में दी गई Exercises को भी ज़रूर हल करें

पड़ी हुई चीजों का रिवीजन अनिवार्य है

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा 2020 की तैयारी में आपको अपनी पड़ी हुई विषय वस्तुओं को समय-समय पर दोहराने की बहुत आवश्यकता होती है इससे आपकी शंकाएं दूर होगी और परीक्षा हॉल में उस टॉपिक में आपको उत्तर देते वक्त किसी भी कन्फ्यूजन की स्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा| परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए Revision बहुत महत्वपूर्ण है इसलिए जितना भी पढ़े उसे समय-समय पर दोहराते रहें. इस दौरान अगर आपको किसी Topic को समझने में समस्या हो रही है तो उसे जल्द दूर करें.

बाल विकास व पर्यावरण पर पर विशेष ध्यान दें

पूरे अध्ययन के दौरान आपने गणित हिंदी संस्कृत इंग्लिश जैसे विषयों को कई बार पढ़ा होता है तो इनमें थोड़ा सा भी ध्यान दे करके आप अच्छे नंबर प्राप्त कर सकते हैं मगर बाल विकास और पर्यावरण यह दो ऐसे विषय हैं जिन पर आपको अधिक ध्यान देने की जरूरत है क्योंकि आप के अध्ययन के वर्षों में आपने इन्हें विषय के रूप में नहीं पढ़ा होता है तो इस तरीके से यह दोनों विषय आपके लिए नए होते हैं

UP TET Primary Exam 2020 Notification जल्दी ही आने वाला है तो आपके पास ज्यादा समय शेष नहीं है|

यह भी पढ़ें

उत्तर प्रदेश प्रदेश 51 हजार सहायक अध्यापक भर्ती – नई शिक्षक भर्ती

kaisebane

View Comments

  • Thanks for sharing this post. This content really helps me to do further action for my blog site. This makes a lot more sense. please visit health card scheme 2021

Share
Published by
kaisebane

Recent Posts

CBSE Results 2024: इस तारीख को घोषित होगा कक्षा 10 और 12 बोर्ड परिणाम

सीबीएसई बोर्ड के छात्रों के लिए एक अच्छी खबर है| CBSE 2024 कक्षा 10 और…

3 weeks ago

भारत की पहली महिला रेसलर हमीदा बानो – Google Doodle Hamida Banu tribute

भारत खेलो और खिलाड़ियों का देश है| भारत के तमाम खेलों में कुश्ती बहुत ही…

3 weeks ago

NET / JRF Exam 2024 Notification| Oppertunity to Apply

National Testing Agency (NTA) has relased UGC NET / JRF Exam June 2024 Notification. राष्ट्रीय…

1 month ago

UPPSC ARO/RO के Mains Exam की अच्छी तैयारी कैसे करें

दोस्तों पिछली पोस्ट में हमने आपको ये बताया था कि समीक्षा अधिकारी कैसे बने -…

1 month ago

UPPSC ARO/RO 2024 Prelims Re-exam Latest Update

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा 11 फरवरी को दो शिफ्ट में उत्तर प्रदेश लोक…

1 month ago

How to make graphics designing career Top 10 tips

दोस्तों आज की दुनिया ग्राफ़िक्स और कंप्यूटर की दुनिया है | आज कल ग्राफ़िक्स डिजाईन…

5 months ago