GATE Exam की पूरी जानकारी हिंदी में – GATE Exam क्या है

आज इस पोस्ट में हम आपके साथ GATE Exam की पूरी जानकारी हिंदी में – GATE Exam क्या है साझा करने जा रहे हैं|GATE का फुल फॉर्म क्या है? GATE Exam कौन दे सकता है ? GATE Exam की योग्यता क्या है और इस परीक्षा के लिए आयु कितनी होनी चाहिए| ऐसे तमाम प्रश्नों के उत्तर आपको इस पोस्ट में मिलने वाले हैं

GATE का फुल फॉर्म क्या है

GATE का फुल फॉर्म होता है Graduate Aptitude Test In Engineering

GATE गेट एग्जाम क्या होता है

GATE एक ऐसी परीक्षा है जिसके माध्यम से engineering student अपने पोस्ट ग्रेजुएशन में दाखिला लेते हैं या यूं कह लीजिए कि वह अच्छे संस्थान में एमटेक M Tech में या ME में एडमिशन लेते हैं। … Gate exam को Indian Institute of Science आईआईटी रुड़की, आईआईटी दिल्ली, आईआईटी मुंबई, आईआईटी कानपुर, आईआईटी खड़कपुर, आईआईटी मद्रास, आईआईटी गुवाहाटी इन सारे प्रतिष्ठित संस्थानों द्वारा इस परीक्षा को आयोजित कराया जाता है। या दूसरे शब्दों में कहें तो GATE Exam एक कंप्यूटर आधारित टेस्ट है जिसका आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर किया जाता है। इसके आधार पर पोस्ट ग्रैजुएट इंजिनियरिंग और साइंस विषयों में दाखिला मिलता है |  अब GATE exam बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका, इथोपिया और संयुक्त अरब अमीरात के छात्र भी दे सकते हैं। GATE exam का आयोजन नैशनल कोऑर्डिनेशन बोर्ड-गेट की ओर से आईआईएससी (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस) या आईआईटी रूड़क, दिल्ली, गुवाहाटी, कानपुर, खड़गपुर, मद्रास, बॉम्बे में से कोई एक करता है। गेट के आधार पर मास्टर ऑफ इंजिनियरिंग, मास्टर ऑफ टेक्नॉलजी और डॉक्टर ऑफ फिलॉस्फी में ऐडमिशन मिलता है। इसके आधार पर जर्मनी, सिंगापुर की कुछ युनिवर्सिटियों में भी दाखिला मिलता है।

GATE Exam के लिए योग्यता

गेट एग्जाम भारतीय और विदेशी छात्र दे सकते हैं। इसके अलावा गेट में कोई आयु सीमा नहीं होती है। किसी भी उम्र का इंसान गेट का एग्जाम दे सकता है। बाकी अलग-अलग कोर्स के हिसाब से शैक्षिक योग्यता नीचे दी गई है।

बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर प्रोग्राम ( B.Arch Programme)
छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या यूनिवर्सिटी से आर्किटेचर में पांच साल की बैचलर डिग्री पास कर रखी हो। जिस साल टेस्ट देना हो अगर उस साल फाइनल ईयर की परीक्षा में बैठने वाले हों तो भी GATE EXAM के लिए आवेदन कर सकते हैं।

बी.टेक/बी.फार्मा/बीई प्रोग्राम
कैंडिडेट ने 12वीं के बाद इंजिनियरिंग या टेक्नॉलजी में बैचलर डिग्री ले रखी हो या वह बीएससी/इंजिनियरिंग में डिप्लोमा/टेक्नॉलजी के बाद 3 साल की बैचलर डिग्री कोर्स में पास हों।

एमएससी/एमसीए/एमए प्रोग्राम
कैंडिडेट के पास किसी भी मान्याता प्राप्त बोर्ड या यूनिवर्सिटी की मैथमेटिक्स/साइंस/कंप्यूटर ऐप्लिकेशन/स्टैटिस्टिक्स की किसी भी ब्रांच में मास्टर की डिग्री हो या समकक्ष हो। फाइनल ईयर की परीक्षा देने वाले कैंडिडेट भी GATE Exam के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इंटेग्रेटिड एमटेक/एमई के लिए
कैंडिडेट के पास किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या यूनिवर्सिटी से इंजिनियरिंग या टेक्नॉलजी में 4 साल के पोस्ट बीएससी इंटेग्रेटिड मास्टर डिग्री प्रोग्राम की डिग्री हो। अगर फाइनल ईयर की परीक्षा देने वाले भी हों तो आवेदन कर सकते हैं।

बीएस/बीएससी रिसर्च प्रोग्राम
कैंडिडेट के पास डिप्लोमा के बाद साइंस में बैचलर की डिग्री हो या 12वीं के बाद साइंस से ग्रैजुएशन किया हो।

इंटेग्रेटिड बीएस/एमएस या इंटेग्रेटिड एमएससी प्रोग्राम
एमएससी या 5 साल का इंटेग्रेटिड बीएस-एमएस प्रोग्राम पास हों या फिर फाइनल ईयर की परीक्षा देने वाले हों।

तो यह थी GATE Exam के बारे में पूरी जानकारी| GATE एग्जाम कौन दे सकता है| GATE के लिए क्या योग्यता है|

LEAVE A REPLY