मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने – HOW TO BECOME A MECHANICAL ENGINEER

1
2553
0
0

आज की पोस्ट “मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने – HOW TO BECOME A MECHANICAL ENGINEER -मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बेस्ट करियर ऑप्शन HOW TO BECOME A MECHANICAL ENGINEER ” में हम इंजीनियरिंग के एक महत्वपूर्ण बिंदु पर प्रकाश डालेंगे |

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने – HOW TO BECOME A MECHANICAL ENGINEER 

मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या है (What is Mechanical Engineering) –

अगर हम  मैकेनिकल इंजीनियरिंग की बात करें तो  मैकेनिकल इंजीनियरिंग, भिन्न भिन्न मशीनों का निर्माण, बनावट, चालन आदि का सैद्धान्तिक (Theoretical)और व्यावहारिक ज्ञान (practical knowledge) है। मैकेनिकल इंजीनियर, सभी इंजीनियरिंग में सबसे पुरानी विस्तृत शाखाओं (Wide Branches) में से एक है. मैकेनिकल इंजीनियर, का कार्य बिजली उत्पादक मशीनों (power-producing machines) जैसे बिजली जनरेटर, आंतरिक दहन इंजन (internal combustion engines), भाप (Steam ) तथा गैस टर्बाइन (Gas Turbine) आदि डिज़ाइन करना होता है. मैकेनिकल इंजीनियरिंग में प्रोडक्शन,आयल एंड गैस ,  Manufacturing , Automobile जैसे फ़ील्ड्स आते हैं | 

मैकेनिकल इंजीनियर शैक्षिक योग्यता (Mechanical Engineering Educational Qualification) –

मैकेनिकल इंजीनियर दो प्रकार के होते है – जूनियर मैकेनिकल इंजीनियर और सीनियर मैकेनिकल इंजीनियर. जूनियर मैकेनिकल इंजीनियर बनने के लिए आपको डिप्लोमा कोर्स करना अनिवार्य होता है.

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 

इस डिप्लोमा कोर्स को आप 10th क्लास पास करने के बाद कर सकते है. इसमें उम्मीदवार को 10th क्लास में मैथ, फिजिक्स, केमिस्ट्री विषयों से पास होना अनिवार्य होता है. तथा डिप्लोमा कोर्स की समय अवधि 3 वर्ष तक होती है. परन्तु यदि आप 12th क्लास पास कर चुके है. तो आपके लिए डिप्लोमा कोर्स केवल दो वर्ष का होगा.

 

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री  

मैकेनिकल सिविल इंजीनियर के लिए उम्मीदवार को 12th क्लास में मैथ, फिजिक्स, केमिस्ट्री विषयों से पास होने के बाद सिविल इंजीनियरिंग फील्ड से बी.ई / बी.टेक कोर्स करना अनिवार्य होता है. इस कोर्स कि अवधि 4 वर्ष की होती है. बीई / बीटेक कोर्स में प्रवेश करने के लिए उम्मीदवार को 12th क्लास में साइंस विषय से अच्छे अंक प्राप्त करने होते है. इसके साथ-साथ उम्मीदवार को इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम भी देना होता है. जो उम्मीदवार इस एंट्रेंस एग्जाम में उत्तीर्ण जाते है. उन्हें ये कोर्स करने की अनुमति दे दी जाती है. उम्मीदवार को कौन सा कॉलेज मिलता है. ये उसकी रैंक पर डिपेंड करता है. जो रैंक उसके एंट्रेंस एग्जाम में आती है. यदि उम्मीदवार सिविल इंजीनियरिंग से बीई / बीटेक कोर्स पूरा कर लेता है. तो वह आगे सिविल इंजीनियरिंग फील्ड से ही एमई और एमटेक कोर्स कर सकते है.

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में रोजगार (Employment in Mechanical Engineering) –

यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग फील्ड में अपना करियर बनने के इच्छुक है. तो आप इसी फील्ड में अपना करियर बना सकते है. क्योकि मैकेनिकल इंजीनियरिंग फील्ड में जाने का सबसे बड़ा फायदा आपकी बढ़ती हुई मांग है. यदि आप इस मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल  कर लेते है. तो आपके लिए रोजगार के कई ऑप्शन है. अथार्थ आपके लंबे समय तक बेरोजगार होने की संभावनाएं काफी काम है.

मैकेनिकल इंजीनियर का हिंदी में मतलब क्या है 

दोस्तों इंजिनियर को हम हिंदी में अभियंता कहते हैं और  दोस्तों मैकेनिकल इंजिनियर (Mechanical Engineer) को हिंदी में यांत्रिक अभियंता कहते हैं

 

इंडिया के बेस्ट मैकेनिकल इंजीनियरिंग संस्थान (Top Mechanical Engineering Institute in India) –

  1. Indian Institute of Technology, Delhi (IIT-D)
  2. Indian Institute of Technology Bombay, Mumbai (IIT-B)
  3. Indian Institute of Technology, Kharagpur (IIT KGP)
  4. Indian Institute of Technology, Kanpur (IIT-K)
  5. Indian Institute of Technology Madras (IIT-M), Chennai
  6. Indian Institute of Technology, Roorkee (IIT-R)
  7. Indian Institute of Technology BHU (IIT-BHU), Varanasi
  8. Birla Institute of Technology and Science, Pilani (BITS Pilani)
  9. Indian Institute of Technology, Guwahati (IIT G)
  10. National Institute of Technology, Tiruchirappalli (NIT Trichy)

विश्व के बेस्ट मैकेनिकल इंजीनियरिंग संस्थान (Top Mechanical Engineering Institute in World) –

  1. Massachusetts Institute of Technology (MIT) (United States)
  2. Stanford University (United States)
  3. University of Cambridge (United Kingdom)
  4. University of California, Berkeley (UCB) (United States)
  5. University of Michigan (United States)
  6. Imperial College London (United Kingdom)
  7. Georgia Institute of Technology (United States)
  8. National University of Singapore (NUS) (Singapore)
  9. University of Oxford (United Kingdom)
  10. Harvard University (United States)

मैकेनिकल इंजीनियर के लिए वेतन (Salaries for Mechanical Engineer) –

यांत्रिक इंजीनियरिंग फील्ड में जॉब के बेहतरीन अवसर होने के साथ-साथ वेतन भी काफी अच्छा है. एक यांत्रिक इंजीनियर का औसत वेतन 3,59,154 रुपये प्रति वर्ष है। तथा यांत्रिक इंजीनियरिंग फील्ड से गये हुए उम्मीदवार विदेश में जाकर प्रति माह लाख रुपए में सैलरी लेते है. ये वेतन का बेसिक आईडिया आपको बताया गया है. इसके अलावा  यान्त्रिक अभियंता (Mechanical Engineering) फील्ड में मिलने वाला वेतन उम्मीदवार की योग्यता, अनुभव एवं उम्मीदवार किस आर्गेनाइजेशन के साथ काम कर रहा है. इन बातो पर निर्भर करता है.

ये भी पढ़े -> 

 

तो हमने देखा दोस्तों कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग, भिन्न भिन्न मशीनों का निर्माण, बनावट, आदि का सैद्धान्तिक (Theoretical) और व्यावहारिक ज्ञान (practical knowledge) है। और हमने ये भी जाना कि यांत्रिक इंजीनियर     या मैकेनिकल इंजिनियर की सैलरी क्या होती  है लगभग | मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने – HOW TO BECOME A MECHANICAL ENGINEER -मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बेस्ट करियर ऑप्शन HOW TO BECOME A MECHANICAL ENGINEER

 

 

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई होतो हम आपसे अनुरोध करते हैं कि इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो के साथ शेयर करे और लाइक करे |

0
0

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)