सेना में अधिकारी कैसे बने – आर्मी ऑफिसर बनने के लिए क्या करें

7
18805
0
0

आज हम आप से ये बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में अधिकारी कैसे बन सकते हैं –सेना में अधिकारी कैसे बनेसेना में ऑफिसर बनने के लिए क्या करें | अक्सर लोगो को ये ही पता होता है कि सेना में अधिकारी बनने के लिए सिर्फ NDA Exam ही एक मात्र विकल्प है – जबकि ऐसा बिलकुल भी नहीं है| आज आप को हम ये ही बताने वाले हैं कि सेना में अधिकारी बनने के लिए कौन कौन से परीक्षा हम कब कब दे सकते हैं | इन परीक्षाओं के लिए क्या क्या शर्ते हैं हम आप को ये बभी बताएँगे | तो चलिए जानते हैं कि सेना में अधिकारी कैसे बने – आर्मी ऑफिसर बनने के लिए क्या करें| सेना में अधिकारी बनने का मतलब थल सेना में कमीशंड अधिकारी या भारतीय वायु सेना में अधिकारी या फिर नौसेना में  कमीशंड अधिकारी बनना है | अगर आपको लगता है कि आप के अन्दर अनुशासन , लगन और मेहनत करने और लीड करने की क्षमता है तो आप यकीनन भारतीय सेना में अधिकारी बन सकते हैं 

 

सेना में अधिकारी कैसे बने

अगर किसी बन्दे के अन्दर देश की सेवा करने का जज्बा है और आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो उस बन्दे या बंदी के लिए कई सारे बेहतरीन ऑप्शंस हैं. सेना की तीनों विंग आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में ऑफिसर बनने के लिए  अलग अलग आयु समूह के अलग अलग परीक्षा होती हैं |

चलिए सबसे पहले ये देखते हैं हम किस तरह सेना में अधिकारी बन सकते हैं

१) एन डी ए (National Defense Academy ) (NDA Exams)

2) CDS (Combined Defense Services)

3) TES (Technical Entry Scheme)

4) Indian Army Technical Entry for Engineers

सेना में अधिकारी बनने के लिए – NDA Exams

एनडीए का एग्जाम देना होता है. एनडीए का एग्जाम संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) साल में दो बार आयोजित कराती है. इस परीक्षा में बैठने के लिए कैंडिडेट का अविवाहित होना जरूरी है. यहाँ जानें एनडीए एग्जाम से जुड़ी हर छोटी से छोटी जानकारी जिससे आप सेना में अधिकारी बनने का आपके लिए क्या अवसर है .

सेना में अधिकारी बनने या एनडीए में जाने के लिए आपको एनडीए एग्‍जाम क्रैक करना होगा. एनडीए की आर्मी विंग को छोड़कर नेवल और एयरफोर्स विंग के लिए 12वीं में गणित होनी जरूरी है. इस एग्‍जाम को क्‍वालिफाई करने के लिए मैथ्‍स का अच्‍छा होना जरूरी है. NDA के रिटन एग्‍जाम में दो पेपर आते हैं, जिनमें मैथ्‍स और जनरल एबिलिटी टेस्‍ट शामिल है. इन दोनों ही पेपरों में ऑब्‍जेक्टिव क्‍वेशचन पूछे जाते हैं. मैथ्‍स का पेपर 300 अंकों का जबकि जनरल एबलिटी टेस्‍ट पेपर 600 अंकों का होता है. यानी कि कुल 900 अंकों का रिटेन टेस्‍ट होता है.

अगर आप इस एग्‍जाम को क्‍वालिफाई करना चाहते हैं तो अभी से तैयारी शुरू कर दें. पिछले  पेपर की मदद लें. इससे आपको एग्‍जाम पैटर्न समझने में मदद मिलेगी. जहां तक गणित का सवाल है तो आपको अर्थमेटिक, एलजेब्रा, ज्‍योमेट्री, ट्रिग्‍नोमेट्री और स्‍टैटिस्टिक्‍स की जमकर तैयारी करनी होगी.

जनरल एबिलिटी टेस्‍ट के दो भाग होते हैं: इंग्लिश और जनरल नॉलेज. पीसीएम स्‍टूडेंट्स को मैथ्‍स में तो ज्‍यादा दिक्‍कत नहीं आती है, लेकिन वे भूगोल, इतिहास, अर्थशास्‍त्र और अंग्रेजी को महत्त्व  नहीं देते हैं और यहीं पर मात खा जाते हैं. मेरी सलाह है कि आप रोज अखबार पढ़ें ताकि सामान्य ज्ञान में  आपकी पकड़ बनी रहे. अंग्रेजी के 200 अंक होते हैं. रोजाना की तैयारी से आपको इस सेक्‍शन में परेशानी नहीं आएगी. इंग्लिश यूसेज, सब्‍जेक्‍ट-वर्ब रिलेशनशिप, टेंस, प्रिपोजिशन और ग्रामिटिकल एरर पर खास मेहनत करनी होगी.

सेना में अधिकारी बनने के लिए – CDS Exams

अगर आप  डिफेंस में करियर बनाना चाहते हैं या स्नातक के बाद सेना में अधिकारी बनने का मौका चाहते हैं तो आपके लिए कंबाइंड डिफेंस सर्विसेज एग्जाम  बेहद खास है. ये एग्जाम साल में दो बार होता है.

योग्यता
इंडियन मिलिट्री एकेडमी IMA के एग्जाम में शामिल होने के लिए मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी विषय में ग्रेजुएट होना जरूरी है. वहीं नेवी के लिए इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री जरूरी है, जबकि एयरफोर्स एकेडमी की परीक्षा के लिए ग्रेजुएट होने के साथ ही बारहवीं में मैथ्स और फिजिक्स जरूरी है. जानिए इसकी तैयारी कैसे करें.

कैसा होता एग्जाम
टेस्ट ऑब्जेक्टिव टाइप होता है और इसमें नेगेटिव मार्किंग भी होती है.
इस एग्जाम में मैथ्स और इंग्लिश दो महत्वपूर्ण सब्जैक्ट होते हैं.
रिटन एग्जाम तीन चरणों में होता है. पहला पेपर अंग्रेजी, दूसरे पेपर में जनरल नॉलेज और तीसरा पेपर एलिमैंट्री मैथमेटिक्स से होगा.
हर पेपर के लिए दो घंटे का समय दिया जाएगा और प्रत्येक के सौ अंक होंगे. दूसरे शब्दों में कुल 6 घंटे में तीन सौ अंकों के तीन पेपर होंगे. रिटन एग्जाम सफल होने के बाद इंटेलिजेंस और पर्सनैल्टी टेस्ट लिया जाएगा.

कैसे करें तैयारी
(1) हर उत्तर  के लिए आपको करीब 1 मिनट का समय मिलता है. इसलिए क्विक प्रॉब्लम सोल्विंग बनें, खासकर मैथ्स में, सवाल से संबंधित महत्वपूर्ण फार्मूलों को याद रखें और सवाल को हल करने के लिए शार्टकट तरीका सीखें.

(2) एक्यूरेसी और स्पीड का  परीक्षा  में सफलता दिलाने में खासा योगदान है इसलिए हमेशा ध्यान में रखें कि प्रैक्टिस बेहद जरूरी है.

(3) पिछले साल के प्रश्न पत्रों को जरूर देखें. इनसे सवालों के नोट कर लें और हर चैप्टर से इसका औसत निकाल लें.इसके बाद उन चैप्टर्स पर खास ध्यान दें जिनसे ज्यादा सवाल पुछे गए हैं.

(4) अगर एक बार चैप्टर पढ़ लिया है तो इसकी कई बार रिविजन करें, खासकर मैथ्स में यह बेहद जरूरी है. इसके अलावा आप मॉक टेस्ट भी आजमा सकते हैं. इसके लिए कोई कोचिंग इंस्टीटयूट ज्वाइन करें.

(5) अपनी जनरल अवेयरनेस (सामान्य अभिरुचि )बढ़ाने के लिए बेहतर होगा कि आप बारहवीं तक की एनसीईआरटी पुस्तके भी पढ़ें. हिस्ट्री में स्वतंत्रता संघर्ष से रिलैटेड प्रश्न अधिक पूछे जाते हैं. इस कारण आप इस पर विशेष ध्यान दें. इसके अलावा रोज की घटनाओं के बारे में जानने के लिए अखबार पढ़ें और देश दुनिया की खबरों पर नजर बनाएं रखें.

सेना में अधिकारी बनने के लिए – TES(Technical Entry Scheme)

इंडियन आर्मी भर्ती : अगर आप 12वीं पास है और भारतीय सेना में भर्ती होना चाहते है तो आप 10+2 TES के लिए आवेदन कर सकते है| भारतीय सेना (Indian Army) अविवाहित पुरुष उम्मीदवारों के लिए आवेदन पत्र आमंत्रित करती है  जो उम्मीदवार भौतिक, रसायन विज्ञान और गणित विषयों के साथ 10+2 (12वीं ) परीक्षा उतीर्ण कर चुके है वो 10+2 टेक्नीकल एंट्री स्कीम (10+2 Tehcnical Entry Scheme Course) के लिए आवेदन Online के माध्यम से कर सकते है|

शैक्षणिक योग्यता: इस प्रवेश के लिए आवेदन करने हेतू केवल वें उम्मीदवार योग्य होंगे जो 10 + 2 या उसके समकक्ष परीक्षा किसी मान्यता प्राप्त शिक्षा बोर्ड से भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित में न्यूनतम (aggregate in PCM) 70% अंकों के साथ पास हो|

आयु सीमा: कोर्स शुरू होने वाले महीने की पहले दिन तक उम्मीदवार की आयु 16½ वर्ष से कम और 19½ वर्ष से अधिक नहीं होना चाहिए|

 Indian Army Technical Entry for Engineers

अगर आप इंजीनियरिंग के छात्र है या कर चुके है तो भी  Indian Army Technical Entry for Engineers के माध्यम से सेना में अधिकारी बन सकते हैं

ध्यान देने की बात ये है कि लिखित परीक्षा के बाद आप को SSB Board का इंटरव्यू देना पड़ेगा तो दोस्तों ये थी जानकारी कि सेना में अधिकारी कैसे बने -अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज इस पोस्ट को शेयर ज़रूर करे |

NDA Exam – CDS Exams in Hindi – How to be officer in Indian Forces

0
0

7 COMMENTS

  1. […] – सेना में अधिकारी कैसे बने – आर्मी ऑफिस…Read- असिस्टेंट कमांडेंट कैसे बने -सहायक […]

  2. अगर nda में. सिलेक्शन हो जाता है तो हम किस पोस्ट पर भर्ती honge

    • लेफ्टिनेंट की पोस्ट पर। पहले सेकंड लेफिनेन्ट की पोस्ट हुआ करती थी

LEAVE A REPLY

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)